Skip to main content

Aam Aadmi Party (AAP) constitutes its Uttar Pradesh Units

आम आदमी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश में कमर कसनी शुरू कर दी है। पार्टी ने 3 अप्रैल तक प्रदेश के सभी गांवों में  इकाई गठित कर लेने का लक्ष्य रखा है। राजधानी लखनऊ में आज पार्टी के पहले प्रदेश सम्मलेन में यह लक्ष्य निर्धारित किया गया। सम्मलेन में 67 जिलों से समन्वयक, सचिव, कोषाध्यक्ष, प्रवक्ता आदि कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।  आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य मनीष सिसोदिया, संजय सिंह, इलियाज़ आज़मी, राकेश सिन्हा और प्रेम सिंह पहाड़ी भी शामिल हुए। 

मनीष सिसोदिया ने कहा कि हमें हर गाँव में नए और अच्छे लोग तैयार नहीं करने हैं, बल्कि हर गाँव में, नगर में पहले से ही सैकड़ों लोग भ्रष्टाचार के खिलाफ अलख जगाए हुए हैं। हमारा काम उन लोगों तक पहुंचकर उन्हें राजनैतिक क्रान्ति से जुड़ने के लिए तैयार करना है। मनीष सिसोदिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश को मुलायम, मायावती, कांग्रेस, भाजपा आदि सभी पार्टियों ने हमेशा लुटा है, हमारा काम जनता को इस लूट के खिलाफ एकजुट करना है। 

आज के सम्मलेन में पूरे प्रदेश को 5 हिस्सों में बांटकर काम करने की रणनीति बनाई गई। इसके तहत पूरे प्रदेश में पांच समितिया बनाई गई हैं। ये समितियां हरेक जिले में हुए कार्य की दैनिक एवं साप्ताहिक समीक्षा रखेंगी। पूर्वांचल जोन में इस कार्य के समन्वय का काम संजीव को सौपा गया है। अवध क्षेत्र में समन्वय का काम अरुणा सिंह करेंगी। रूहेलखंड में विशाल शर्मा, बुंदेलखंड में मुरारी लाल जैन और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दीपक सरीन समन्वय कार्य देखेंगे। 

युवाओं , छात्रों और महिलाओं को पार्टी से जोड़ने पर विशेष जोर दिया जाएगा। 

Make a Donation